05 मई, 2009

ग्रंथकर्ता का चित्र


ऐदीह्यमाला के रचयिता कोट्टारत्तिल शंकुण्णी (1855 - 1937)। यह दुर्लभ फोटोचित्र ऐदीह्यमाला के मूल मलयालम संस्करण से लिया गया है, जिसके प्रकाशक हैं, कोट्टारत्तिल शंकुण्णी स्मारक समिति, कोट्टयम, केरल। चित्र को बड़ा करने के लिए उस पर क्लिक करें।

3 Comments:

हिमांशु । Himanshu said...

कम से कम इस ब्लोग के माध्यम से हम मलयालम के इस बहुपरिचित ग्रंथ से रुबरू होंगे । आभार । जानता ही नहीं था कि इतना महनीय कार्य इस ब्लोग पर प्रस्तुत होगा । आभार ।

Mired Mirage said...

हिमांशु जी से सहमत हूँ। आभार।
घुघूती बासूती

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

बालसुब्रमण्यम जी,
आपकी सारी पोस्ट्स आज ही पढीं - इन मलयालम कथाओं को हिन्दी में पढ़ पाना मानो एक रहस्य लोक के उदघाटन जैसा ही अनुभव है. आपको बहुत धन्यवाद. यह कार्यक्रम जारी रहे, इसी कामना के साथ,
~अनुराग शर्मा.

हिन्दी ब्लॉग टिप्सः तीन कॉलम वाली टेम्पलेट